बैकलिंक्स ये  SEO  एक सबसे important पार्ट है ।

जिसके बिना वेबसाइट को रैंक करना बहुत ही जयादा मुश्किल है ।

अगर आप Backlinks kya hai ? High Quality Backlinks kasie banaye  इसके बारेमे मई जानना  चाहते हो थो ये पोस्ट आपके लिया ।

ये पोस्ट पूरा पड़ने के बात आपको बैकलिंक्स का पूरा फंडा Clear हो जायेगा। और आप वि आसानी से बैकलिंक्स बना सकते हो।

नई ब्लॉगर हो या old Blogger बैकलिंक्स बनाने सब लिया थोड़ा मुश्किल हो सकता है अगर आपके पास सही इनफार्मेशन नहीं है थो ।

बहुत सरे ब्लॉगर को थो बैकलिंक्स का सही मतलब तक पता नहीं होता । ऐसे मई वो साइट को कैसे रैंक कर पाएंगे ।

आप अगर जानना चाहते हो की High Quality Backlinks kaise banaye  थो पोस्ट अच्छा से पढ़िए ।

मई इस पोस्ट मई BACKLINKS के पूरी कुंडली के बेरमे ज्ञान देना वाला हु .आपको पोस्ट अच्छा से पेरके उसे इम्प्लीमेंट करना होगा

आपको ये वि पता होगा की सिर्फ पोस्ट पेरने से बैकलिंक्स नहीं आने वाला थो निजी दिए गए स्टेप को फॉलो कीजिये और बैकलिंक्स इनक्रीस कीजिये ।

 

Backlinks kya hai  | बैकलिंक्स क्या है?

backlinks kya hai  

बैकलिंक्स बनाने से पहले आपको backlinks kya hai ये जानना बहुत ही जयादा जरुरी है ।

बैकलिंक्स ऐसे एक लिंक होता है जो दूसरे के साइट मई  आपके साइट का लिंक  दिया जाता है , इसे बैकलिंक्स कहा जाता है ।

EX :मन लो आपका नाम jack है और आपका एक दोस्त है जिसका नाम sagar है ।

Sagar अगर उसके साइट मई आपका साइट का लिंक कही पर वि देता है थो आपका साइट मई एक Backlinks Generate होगा ।

मुझे उमेद है आपको Backlinks kya hai समाज आया होगा ।

 

किसी वि वेबसाइट के हिसाब से बैकलिंक्स 2 Types के होता है 

  1. Internal Backlinks 
  2. External Backlinks

Internal Backlinks का मतलब जो बैकलिंक्स आप खुद अपने एक पोस्ट से दूसरे पोस्ट के साथ करते हो वो होता है इंटरनल बैकलिंक्स ।

External Backlinks का मतलब होता है किसी दूसरी साइट को बैकलिंक्स देना ।

 

Types of Backlinks | Backlinks के प्रकार 

बैकलिंक्स 2 टाइप के होता है

  1. DO-FOLLOW BACKLINKS
  2. NO-FOLLOW BACKLINKS

DOFOLLOW BACKLINKS का  मानलो Sagar ने आपको एक Do-follow Backlinks  दिया है थो जब सर्च इंजन का crawler जब वि सागर के साइट मई आएगा वो साइट के बैकलिंक्स से crawler आपके साइट मई वि आएगा इससे आपके साइट के Authorithy increase होता है ।

Do-follow backlinks साइट को रैंक करने मई बहुत ही जयादा हेल्प करता है ।

इसी लिए दो फॉलो बैकलिंक्स पर जयादा ध्यान देना किया इसे फायदे बहुत है ।

NOFOLLOW BACKLINKS का  मानलो सागर ने आपको एक No-follow Backlinks  दिया है थो जब सर्च इंजन का Crawerl जब वि सागर के साइट मई आएगा वो साइट के बैकलिंक्स से क्रावेरल आपके साइट मई नहीं आएगा ।

DO-follow Matlab follow Karo

No-follow Matlab follow mat Karo

Note

अगर साइट मई अच्छा सो करना है थो फिर दो फॉलो और नो फॉलो दोनों लिंक्स का इम्पोर्टेन्ट होता है .इसी लिए दोनों को अच्छा से करे .सिर्फ  दो फॉलो लिंक पर या सिर्फ नो फॉलो लिंक पर ध्यान मत दे ।

 

 High-Quality Backlinks Kaise banaye

High-Quality Backlinks कैसे बनाये

 

पहला थो जानते है की High Quality Backlinks kya  hai ?

उसके बात जानिए High Quality Backlinks kasie banaye ?

High Quality का मतलब होता है किसी वि High DA and PA  साइट से बैकलिंक्स लेना । और जिसका स्पैम स्कोर(Spam score) 1 से काम हो।

DA मतलब DOMAIN AUTHORITY और PA  मतलब PAGE AUTHORITY।

थो फिर

High DA PA site se Backlinks Kaise banaye?

  1. Guest Post

आप High DA साइट को गेस्ट पोस्ट के लिया approach कर सकते हो ।

गेस्ट पोस्ट का मतलब होता है कोई वि दूसरी साइट मई खुद का आर्टिकल को पब्लिश करना ।

उस आर्टिकल मर आपको अपने साइट का एंकर लिंक ऐड करना होता है वह से आपको एक बैकलिंक्स मिल जायेगा । अगर आपका साइट नई है थो फिर आप मिनिमन १० डा वाला साइट को गेस्ट पोस्ट के लिया रिक्वेस्ट करे। क्यू की हाई डा साइट आपके गेस्ट पोस्ट एक्सेप्ट नहीं करेंगे।

2.Quora 

कौर मई वि क्वेश्चन आंसर करके आपको हिघे कुलाइटी बैकलिंक्स मिलता है .कौर मई अपने निचे के रिलेटेड किसी वि क्वेश्चन का आंसर लिंकन है और वह पर खुद का पोस्ट का लिंक देने है बस बैकलिंक्स बन गया ।  

3.MEDIUM 

मध्यम वि एक आर्टिकल सुब्मशन साइट बोल सकते हो .या पर वि आप अपने खुद के निचे रिलेटेड यूनिक आर्टिकल लिखी सबमिट कर सकते हो .और आर्टिकल मई अगर आप खुद का साइट का लिंक देता हो थो फिर बैकलिंक्स बन जाता है ।

  4.Genuine Tarika :

आप जब वि किसी वि साइट को बैकलिंक्स देता हो थो फिर आप किया डेक्था उसके कंटेंट राइट

थो फिर आप वि बरिया से बरिया कंटेंट लिखे इससे आपको वि दूसरे साइट बिना मयनत के बैकलिंक्स मिल जायेगा ।

अगर आपके कंटेंट मई दम है थो लोग वि आपको बैकलिंक देता है .इसी लिए खुद कंटेंट के ऊपर वि दयँ देना जरुरी होता है ।

 

5.Comment Backlinks 

अगर आपको आसान तरीका से नो-फॉलो बैकलिंक्स बनाना है थो वि कमेंट करे .

आप आपके निचे से राल्टेड ब्लॉग साइट पर जेक वह कमेंट करे इससे आपको आसानी से नो फॉलो बैकलिंक्स मिल जाता है .

 

6.Social Book marking site :

इंटरनेट के दुनिया मई सोशल बुकमार्किंग साइट वारे पड़े है .आपको सोशल बुकमार्किंग से दो-फॉलो और नो-फॉलो दोनों टाइप के बैकलिंक्स मिल जायेगा .

कोई कोई सोशल बुकमार्किंग साइट आपको नो-फॉलो और कोई कोई दो-फॉलो साइट देता है .

आपको जस्ट वो सब साइट मई जेक खुद का साइट का लिंक देना होता है .

  7. Profile creation site :

प्रोफाइल बैकलिंक ये फेसबुक ,इंस्टाग्राम ट्वविटर मई आपको जैसे वेबसाइट सबमिट करने के ओप्तिओंस मिलता है उसी तरह प्रोफाइल क्रिएशन साइट मई वि आपको ओप्तिओंस मिलता है ।

आपको प्रोफाइल क्रिएशन साइट मई जेक साइट का नाम का अकाउंट ओपन करना है .

और वेबसाइट सुमित करने के ओप्तिओंस पर खुद का साइट का यूआरएल पेस्ट करना होता है .बस आपको इस तरह से बैकलिंक मिल जाता है ।

  8. Infographic:

बहुत सरे ब्लॉगर को पता नहीं है की इंफॉरग्रॅफिक के मदद से वि बैकलिंक मिलता है .

आपको इन्फोग्राफिक शेयरिंग साइट मई जेक वह पर खुद का निचे रिलेटेड हाई कुल्टी इंफॉरग्रॅफिक शेयर करके वह से वि बैकलिंक बना सकते हो ।

9.PDF submissions sites :

पीडीऍफ़ के मदद से वि आप बैकलिंक्स गेनेराते कर सकते हो .पीडीऍफ़ से मदद से आप एक बार मई एक पीडीऍफ़ मई बहुत सरे एंकर लिंक देखा बहुत सरे लिंक गेनेराते कर सकते हो ।

आज के बात आपके मन मई बैकलिंक कैसे बनाये ये क्वेश्चन नहीं आने वाला है .

बहुत सरे ब्लॉगर सिर्फ गेस्ट पोस्टिंग पीछे वघते है .मेरा वाई गेस्ट पोस्ट अकेला बैकलिंक का सोर्स नहीं है ।ऊपर दिए गए साइट पर जेक  बैकलिंक बनाए .

ये बैकलिंक्स आपके रैंकिंग बूस्ट करने मई १००% हेल्प करेगी .

10.Images submissions sites:-

इमेज सबमिशन साइट का नाम थो सुना ही होगा अगर नहीं सुना है थो कोई बात नहीं। मई आपको अच्छे से इसके बारेमे मई एक्सप्लेन करूँगा।
इमेज सबमिशन का मतलब होता है कोई साइट मई जेक फोटो को सबमिट करना। आप ये सब साइट मई जेक अपने निचे के हिसाब से फोटो अपलोड कर सकते है और वह से बैकलिंक बना सकता है। इमेजेज सबमिट करके बैकलिंक बनाना बहुत ही आसान होता है।

  High-Quality Backlinks Banane के फायदे :

  1. FAST Indexing

बहुत सरे नई ब्लॉगर का प्रॉब्लम होता है की उनका पोस्ट इंडेक्स नहीं होता है ।

थो  बैकलिंक का ये फ़ायदा है की आपका पोस्ट जल्दी इंडेक्स होता है .

2.Ranking Boost 

ये थो सबको पता है अच्छा बैकलिंक से साइट का रैंकिंग इम्पॉरवर होता है और कीवर्ड वि रैंक करना स्टार्ट केर देता है .

3.REFFERAL TRAFFIC

रेफ्फ्रेल ट्रैफिक का मतलब होता है जिस वि साइट ने आपको बैकलिंक दिया है वो बैकलिंक के थोरुह यूजर आपके साइट मई एते है इसे रेफरल ट्रैफिक बोलै जाता है .

ये ट्रैफिक बहुत ही अच्छा और targeted ट्रैफिक होता है इसके कारन आपके साइट का इम्प्रैशन बड़ जाता है और साइट के Bounce Rate को काम करने मई मदद करता है .

4.promotion

Quality Backlinks कभी  कभी प्रमोशन के काम करते है ।

मन लो किसी High DA  साइट से आपको साइट मई एक बैकलिंक मिल गया वह पर जितना वि विजिटर आएंगे कही न  कही  वो लोग

आपके साइट के नाम को जानेंगे इसी तरह प्रमोशन वि हो जाता है ।

 
CONCLUSION

बैकलिंक्स का कुंडली पोस्ट मई आपको Backlinks kya hai ? Backlinks kaise banaye  ?

बैकलिंक्स बनाने का आसान तरीका सब कुछ इसी एक पोस्ट मई बोलै है ।

और muje उमेद है की आपको ये पोस्ट अच्छा लगा होगा और बैकलिंक के बारेमे बहुत कुछ सीखने को मिला है .

अगर आपके मन मई कभी वि कोई सबल है थो आप पूछ सकते है

धन्यवाद 

  ♦SEO Kaise Kare  ♦Blog ki Traffic Kaise badhaye