आज डिजिटल दुनिया मई अपने प्रोग्रम्मिंग और कोडन के बारेमे थो सुना ही होगा।

2021 मई प्रोग्रामिंग और कोडन बहुत ऍम एक वर्ड बन चूका है। हर कोई प्रोग्रामिंग शिकणे मई लगा है।

ऐसे मई आपको वि प्रोग्रामिंग के बारेमे जानना बहुत ही जयादा जरुरी है।

आज मई आपको Programming in hindi मई आपको सब programming और coding क्या है  ? इसे कैसे शिखे।

प्रोग्रामिंग सीखने के फ़ायदा सब कुछ Explain करूँगा।

और आपको लोगो ने सुना होगा सॉफ्टवेयरsoftware) अप्प(app) वेबसाइट(website) ये  सब के बारेमा जो की किसी ना किसी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज से बना हुआ होता है ,सब कोई प्रोग्रामिंग इंग्लिश मई पड़ता होगा लकिन आज हम आपको प्रोग्रामिंग के बेरमे हिंदी मै शिखेंगे।

सबसे पहला बात करते है……..

प्रोग्रामिंग लैंग्वेज क्या है?(what is programming in Hindi )

programming kya hai

programming kya hai

प्रोग्रामिंग लैंग्वेज ऐसे एक लैंग्वेज होता है जिससे हमलोग कंप्यूटर को कोई काम करा सकते है। जैसे की आपको सबको पता होगा की कंप्यूटर 0,1  ये  2 नंबर को समजता है इसलिए कंप्यूटर के साथ बात करने के लिया उसी का लैंग्वेज use करना पड़ता है ।

हम लोग कंप्यूटर के काम करना के लिया जिस वि प्रोग्रामिंग लैंग्वेज का use करते है उसे कम्पाइलर के माद्यम  से  कंप्यूटर बाइनरी(Binary) मै यानि 0,1 मै कन्वर्ट(convert) करके हमलोगो को आउटपुट(output) देता है ,

अभी आप के मन ये  क्वेश्चन आया होगा कम्पाइलर कैसे बनते है ,कम्पाइलर वि कोई वि एक प्रोग्रामिंग लैंग्वेज के माद्यम  बनते है।

Programming Language के प्रकार (Types Of Programming Language)

Programming Language के 2 प्रकार होते है

  1. Low-level programming language
  2. High-level programming language

1.Low-level programming language: Low-level language का  2 प्रकार के है 

  •   Machine language

जैसे की मैना पहले की कहा था कंप्यूटर 0,1 को सिर्फ समझता है थो मशीन लेवल लैंग्वेज(Machine language) ,मशीन लेवल लैंग्वेज बहुत ही फ़ास्ट एक्सक्यूटे होता है। Machine level मतलब जो code कंप्यूटर डायरेक्ट समझता है ।

इसे लौ लेवल लैंग्वेज वि बोलै जाता है क्यू की ये भासा हमलोगो को समझने मै बहुत टाइम और ज्ञान के अबसाक्ता होती है।

उतरन से समझते है 

01011010

इसका मतलब है :- “Z

आप देखिए ऊपर का मशीन लेवल लैंग्वेज(Machine level language ) है ।
और निचे का ह्यूमन लैंग्वेज (Human language) ।

  •  Assembly language :-

मशीन लेवल लैंग्वेज को थोड़ा  आसान बनाने के लिया अससेबमल्य लैंग्वेज को बनाया गया ,इस लैंग्वेज का थोड़ा सा फरक है ,जैसे की मशीन लेवल लैंग्वेज मै 0,1 चलता है, इसमें इंग्लिश का छोटा छोटा वर्ड्स जैसे ADD , MUL ,DIV use किया है , जिसको MNEMONICS बोला जाता है ।

Assembly language मई जो छोटा English word का use किया गया उसे एक ट्रांसलेटर के माद्यम से 0,1 मई ट्रांसलेट करके हमलोगो आउटपूत देता है । जो ये ट्रांसलेट के काम करता है उसे असेम्बलर(Assembler) बोलै जाता है

ये जायदा तर माइक्रोप्रोसेसर(Microprocessor) के प्रोग्रामिंग के use होता है।

2. High-level programming language:-

High-level programming language का २ पीढ़ी है ,कोई वि चीज एकबार मई नहीं अत ऐसे ही प्रोग्रामिंग लगॉगे वि धीरे धीरे इतना जायदा डेवेलोप(Develop) हुआ है ।
सबसे पहले था थर्ड(Third generation) जनरेशन और फौत जनरेशन(Fourth generation) प्रोग्रामिंग लैंग्वेज।

Third Generation :
Third generation प्रोग्रामिंग लैंग्वेज बहुत ही आसान हो गया था ,या पर आपको मशीन और असेंबली लैंगुएज का use नहीं करना पड़ता ।

इसे लिखना और पड़ना वि बहुत आसान हो गया था ,कुछ पॉपुलर प्रोग्रामिंग नाम :- COBOL, PASCAL ,C ,C++ अदि ।

Fourth Generation :-

HIGH LEVEL LANGUAGE का मतलब ये है की जो लैंग्वेज हमलोग आसानी से समाज सकते है लकिन कंप्यूटर को समझना थोड़ा मुश्किल होता है। फौत गण मई प्रोग्रामिंग को बहुत ही आसान बना दिया गया था ये पर देखा जाये थो जयादा तर इंग्लिश वर्ड्स use होता था जैसे की printf, scanf, if, else,cout,cin ऐसे वर्ड का use होता है ।

Ex:-java .NET ,Microsoft visual studio etc.

प्रोग्रामिंग भाषा कैसे सीखें(How to learn a programming language)?

  • अपने इंटरेस्ट के अनुसार कोई वि एक आसान प्रोग्रामिंग(programming language) को चुने।
  • प्रोग्रामिंग का बेसिक ज्ञान अच्छे से ले।
  • इंटरनेट पर जो वि ऑनलाइन टुटोरिअल है उसे अच्छे से पड़े।
  • नियमित अभ्यास करे।
  • सबसे पहले छोटा छोटा प्रोग्रामिंग स्लोवे करे
  • अपने प्रोग्रामिंग के अनुसार कोई वि एक अच्छा सा प्रोजेक्ट पे काम करे। क्यू की अलग अलग प्रोग्रामिंग लगॉगे के अलग अलग प्रोजेक्ट होता है

आपको प्रोग्रामिंग भाषा क्यों सीखनी चाहिए?(why you should learn a programming language)

अगर आपको कंप्यूटर मई इंटरेस्ट है और आप सॉफ्टवेयर अप्प गेम ेया सब डेवेलोप करना चाहते हो थो आपको प्रोग्रामिंग लांगूगे शिखना चाहिए ,प्रोग्रामिंग लगॉगे के मदद से आप इसे बना सकते है ,अभी आप जहा पर ये आर्टिकल पर रहे हो वो वेबसाइट वि प्रोग्रामिंग लगॉगे के मदद से बनाया गया है ,आप इसके मदद से बहुत सरे रियल का वि समाधान कर सकते है।

अब programming के मदद से Gana video, game  का software वि बना सकते है ।

और आज के दिन मई हर किसी को काम से काम एक प्रोग्रामिंग लैंग्वेज का ज्ञान होना बहुत ही जायदा जरुरी है। मई वि आपको बोलूंगा आप एक प्रोग्रामिंग लैंग्वेज को शिखे।

c language kya hai

स एक General purpose programming language है ।
ये 1972 मई Dennis Ritchie इसे Developed किया था ।
ये ऑपरेटिंग सिस्टम ,डेटाबेस ,कम्पाइलर बनाने मई काम अत है।
ये programming language को आसानी के शिखा जा सकता है , इसिलए Beginner के लिए बहुत ही अच्छा है ।

python kya hai

python आज के दिन का सबसे पॉपुलर प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है ।ये प्रोग्रामिंग language Easy to learn easy to understand ,इसीसलए हर कोई इसे पसंद करता है ।इसे शिखना वि बहुत ही आसान है .

c++ in Hindi

C++ एक High level object oriented programming language है ।
ये real world प्रोग्रामिंग रिलेटेड problem को solve करने मई बहुत हेल्प करता है ।

एक बात आपके लिए:-

मुझे उमेद है आपको ये  पोस्ट अच्छा लगा और “programming in hindi” में  प्रोग्रामिंग लैंग्वेज क्या है? Programming Language के प्रकार ,प्रोग्रामिंग भाषा कैसे सीखें,आपको प्रोग्रामिंग भाषा क्यों सीखनी चाहिए ? ये सबके बेरमे  हिंदी मई सीखने को मिला ।

अगर आपके मन मई कोई वि क्वेश्चन (questions) है थो आप निजी कमेंट सेक्शन मई पूछ सकते है।

धन्यवाद