” SEO  kaise kare “, इसके ऊपर आज इस ब्लॉग पोस्ट मई आपको सब कुछ सीखने को मिलेगा।

“SEO” को बहुत सरे ब्लॉगर बहुत कठिन तरीका से लेते है।

क्या SEO करना इतना कठिन से जितना आप सोचते हो ?

जी नहीं।

SEO एकदम आसान सा एक टॉपिक है जिसे आप आसानी से समझ सकते है।

लकिन उस अच्छा से समजाने वाला चाहिए।

थो चलिए मई आपको आज “SEO STEP BY STEP IN HINDI “मई आसान language मई समझता  हु।

सबसे पहले जानते है की

seo क्या है ? WHAT IS SEO

SEO का FULL FROM “SEARCH ENGINE OPTIMAIZATION

जिसके हेल्प से आप GOOGLE मई अपना BLOG POSTS ,WEBSITES और BLOG PAGES  ka contents को रैंक करा सकते है।

अभी बात करते है SEO का jarurat क्यू है ?

seo-search-engine-optimization

जितने वि सेरच इंजन होता है उसमे हर दिन करोड़ से वि जयादा पेजेज, ब्लॉग पोस्ट उपलोड़े किया जाता है ऐसे मई आपका ब्लॉग पोस्ट को सर्च इंजन के FONT पेज मई लेके आने के लिया आपको SEO का जरुरत होता है।

आप SEO की मदद से सेरच इंजन को अपने ब्लॉग को ऊपर लेने के लिया Instraction देते हो।

उसी हिसाब से सर्च इंजन अपना काम karega ।

ऐसे मई अगर आपको SEO के बारेमे कुछ वि पता न हो थो आप अपने ब्लॉग पोस्ट को TOP 10 MAI रैंक नहीं करा पायेंगे ।

Types of SEO In Hindi

SEO 3 प्रकार के होते है

  1. ONE-PAGE SEO
  2. OFF-PAGE SEO
  3. TECHNICAL SEO

ONE-PAGE SEO KYA HAI /ON-PAGE SEO KAISE KARE

ONPAGE SEO आपका वेबसाइट का content se रिलेटेड होता है।

ON-PAGE SEO MAI APKA निचे दिए गए ३ चीज आता है

  • KEYWORDS RESEARCH
  • CONTENTS CREATION
  • KEYWORDS OPTIMIZATION

keyword research Kaise Kare

कीवर्ड रीसर्च करने से पहले आपको ये जानना जरुरी है की कीवर्ड होता क्या है ?

कीवर्ड को वर्ड होता है जो की आप गूगल पे सर्च करते हो

Example लेते  है जैसे की मेरा साइट का नाम Mentor fact ,ये एक कीवर्ड है

Mentor fact google पे सर्च करने पे पहले नंबर पे आता है ,इसे करने के लिया वि आपको सो करना परता है।

mentor fact

अभी आपको KEYWORD KYA HOTA HAI  है समझ मई आया होगा,अभी बैठत करते है KEYWORDS  RESEARCH KAISE KARE?

keyword research ke lya apko kuch tools milega jiske madad se ap easily keyword research kar sakthe ho .

Tools ka name hai

  • google keyword planner(Free tool)
  • Ubbersuggest(Half free)
  • Ahref(paid tool)
  • Semrush  (paid tool)
  • KWFinder

अभी देखते है Keyword research कैसे किया जाता है

  1. GOOGLE KEYWORD पर

keyword research by mentor fact

सबसे पहले row mai आपका कीवर्ड है जैसे की seo kaise kare

उसके बात का row avg.Monthly search मतलब 1 month मई इस कीवर्ड पर लोग कितना सर्च करते है।

compition इसका मतब इस कीवर्ड पर रैंक करना कितना मुश्किल है ।

LOW range cost  और highe range cost मतलब इस ब्लॉग पोस्ट पर अगर एड्स चले थो low और hige इतना तक पैसा ads apy करता है ।

ऐसे करके आप आसानी से कर keyword research सकते हो ।

Google keyword planner( गूगल कीवर्ड प्लानर )एकदम फ्री है अगर आप Beginner है थो इसे आराम से use  कर सकते हो।

SEO TIP:अगर आप ब्लॉग्गिंग मई एकदम नया हो और आपका नया साइट है थो आप 0-15 तक keyword difficulty pe(compittion) काम करे ।

IMPORTANT ARTICLE:  Google core update in Hindi 

ON-PAGE SEO KA #2ND PART CONTETN CREATION :

आप ब्लॉग सेटअप करने के बाद जब आर्टिकल लिखते हो तब उसे कंटेंट बोलै जाता है (सरल भाषा मई ब्लॉग पोस्ट ) ।

content likhne ke  टाइम आपको seo frinedly contetnलिखना होता है ।

SEO Friendly contetn कैसे लिखे यो 3rd part मई बताया गया है ।

ON-PAGE SEO KA #3RD PART KEYWORD OPTIMIZATION:

Keyword optimization का मतलब है आपका Target keyword को सही place पे लिखना.

KEYWORD OPTIMIZATION Checklist:-

  1. Target Keyword ko title pe likhe
  2. Target keyword url pe hona chiya .
  3. First paragraph ke 100 words ke andar ak bar likhe
  4. META description pe Akbar
  5. main body ke andar
  6. subheading ma use kare
  7. img mai alt txt likhne ke time akbar keyword use kare
  8. ak internal link or extranal link ko use kare apne pura blog post mai
  9. Target keyword ka related at least 5 keywords ka use kare .
  10. Blog post ke last mai akbar keyword use kare

OFF-PAGE SEO KAISE KARE :

What is off-page SEO in Hindi:-

off-page seo ka मतलब है अपने वेबसाइट को गूगल के टॉप मई रैंक करने के लिया ,अपने वेबसाइट के लिया हम दुसरो वेबसाइट से लिंक बनाते है या फिर वेबसाइट को शेयर करने के लिया बोलते लिया ।

दूसरे तरफ से आपका वेबसाइट को Google या फिर कोई search engine  के नज़र मई आपका साइट का TRUST  और AUTHORITY बरता hai ।

Why is off-page SEO important?

off-page seo आज वि गूगल का ALgorithm मई बहुत ही important role play है।
अगर आपको साइट को टॉप मई रैंक करवाना है थो फिर ऑफ पेज सो करना बहुत ही जरुरी है।

OFF-PAGE SEO karne ka tarika :-

  1. Link bulding :LINK BULDING एक का OFF-PAGE KA पार्ट है। इस TECNNIQUE मई आप दुसरो वेबसाइट से खुद का वेबसाइट मई BACKLINK ले सकते हो।off page seo-mentor factआप लिंक एक्सचेंज करके वि अपने वेबसाइट मई BACKLINKS ले सकते हो ।
  2. FORUM DISCUSSION:  बहुत सरे FORUM SITE  है जा पर आप अपने पोस्ट का लिंक देकर बैकलिंक को बड़ा सकते हो । EX: QUORA ,REDDIT ETC.
  3. SOCIAL BOOKMARKING SITES:- AP social bookmarking site पे अपने साइट को submit करके वि बैकलिंक bana सकते हो। EX:Pinterest ,Facebook, twitter,pocket  ,digg etc.
  4. ARTICLE DICTRIOES:-इसमें आपको उन सब आर्टिकल डी साइट्स पे जेक आपका साइट को सबमिट करना होता है ,और वह से वि आपको बैकलिंक्स मिलेगा ।

ऊपर दिया गया Technique का use  करके आप off-page ka  को proepr तरीका से अपने साइट रैंक करा सकते हो ।

TECHNICAL SEO:-

Technical seo साइट का technical part होता है जिसमे indexsing  ,crawaling ,site statructure, ye sab depend करता है ।

Site structure:-

flat-site-structure-768x296

इस तरह का Site structure पे search engine का spider आपका साइट को peroper tarika crawling कर पता है ,थो साइट बनाने के टाइम ध्यान से इस तरह का structureरखना ।

Technical seo ka checklist:

  • site structure

Site structure मई आप अपने साइट का सही डिज़ाइन, Navbar मई जितने वि category , pages है उसके अच्छे से ADD  करना है।

category  मई अगर sub catory  है उसे वि अच्छे से ऐड करना है। और हमेसा सो फ्रेंडली थीम का उसे करना।

  • mobile friendly

अगर आपके साइट मोबाइल फ्रेंडली नहीं है थो आप कभी वि गूगल मई रैंक नहीं कर सकते। इसिलए थीम लेने से पहले या फिर इनस्टॉल करने से पहले आप मोबाइल फ्रेंडली है नहीं चेक केर सकते है। इसके लिए गूगल का आपका खुद का टूल है पेज स्पीड इनसाइट । गूगल मई सर्च करना मिल जायेगा।

  • security

security का मतलब  होता है आपका साइट कितना SECURE है। आपके साइट मई SSL certificate है की नहीं ,सस्ल सर्टीफिके है या नहीं चेक करना का सरल उपाय है आपके साइट मई देखना है http: है ya https:

HTTP Hypertext Transfer Protocol का मतलब होता है ,जिसको गूगल आज के दिन मई जयादा सिक्योर नहीं मानत।

Hypertext Transfer Protocol secure जो की Fully sercure hota hai होता है।

http-vs-https
credit:cloudflare

 

  • indexing

Fast index =FAST Ranking change अगर आपका साइट फ़ास्ट इंडेक्स होता है थो फिर जल्दी रैंक होने का chance होता है।

फ़ास्ट इंडेक्सिंग के लिए  On-page seo मई इंटरनल लिंकिंग ठीक से करे। अगर कोई ओल्ड पोस्ट गूगल मई आगे से इंडेक्स से थो फिर आप वह पर नई पोस्ट का लिंक दे सकते है। क्रॉलर जब आपके old post को crawal करेगा उस टाइम नई साइट वि इंडेक्स होने का चांस रहता है।

  • site speed

२०२१ मई साइट स्पीड एक सबसे बड़ा रैंकिंग फैक्टर है अगर आपका साइट का स्पीड अच्छा से थो फिर आपका रैंकिंग मई वि improvment आएगा इसीलिए साइट का स्पीड वि सही है चेक करते रहना।

जब आप कोई वि पोस्ट लिखते हो वह पर जो वि images ऐड करते हो उसे पहले अच्छे से compress करे उसके बात use करे।

क्यू की इमेजेज वीडियो जायदा लोडिंग टाइम (loading time) लेते है।

ये सब Technical seo ka  का checklist से जिसे आपको ध्यान देना है ।

Conclusion:

ऊपर दिए गया सब स्टेप को अगर आप प्रॉपर तरीका से फॉलो करते हो थो आपका साइट गूगल का टॉप 10 मई 100% रैंक करेगा।

और आपको” SEO KAISE KARE  “इसके ऊपर वि हो proeper knowdelge ho चूका होगा ,और seo kya hai ,on-page,”off-page seo kaise kare” ये सब के बेरमे आपको अच्छा से पता चल चूका है।

अगर आपको ये ब्लॉग पोस्ट थोड़ा वि अच्छा और या से कुछ शिकणे को मिला है थो एक comment और दोस्तों के sath share करे ।

धन्यवाद

♦Backlinks kya hai ? Backlinks kaise banaye